Deoghar news: ड्राइवर की एक गलती से छोटे बच्चे की मौत, जाने कैसे हुइ ये घटना?

Raja Vishwakarma
5 Min Read
JCB की चपेट में आने से बच्चे की मौत

Deoghar:- आक्रोशित लोगों ने जेसीबी चालक को फोन करने की मांग की। वे सफाई टिपरों (जैसे जेसीबी) में आग लगाने की भी धमकी दे रहे थे। जाम के दौरान इस सड़क पर आवागमन पूरी तरह बाधित रहा।

Whatsapp Channel Join
Telegram Join

देवघर नगर निगम कार्यालय के पीछे स्थित सफाई एजेंसी के कचरा डिपो, जो पहले स्टेट बस डिपो था, में कचरा चुन रहे एक दैनिक वेतनभोगी सफाईकर्मी मुन्ना मल्लिक का 10 वर्षीय बेटा प्रेम की जेसीबी से कुचलकर मर गया। यह बताया जाता है कि बच्चा कचरा डिपो में चुन रहा था। चालक ने कचरा हटाने के लिए जेसीबी को चलाते समय बच्चे को नहीं देखा। बच्चे को मिट्टी हटाने वाले भाग से कुचलने से घटनास्थल पर ही मर गया।

- Advertisement -

शुक्रवार की दोपहर करीब 12 बजे यह घटना हुई। वह वार्ड नंबर 13 राजाबगीचा में रहता था। मृतक के माता-पिता और सभी रिश्तेदारों ने सूचना मिलते ही मौके पर पहुंचकर बच्चे को उठाकर सीधे सदर अस्पताल ले गए, जहां डॉक्टर ने उसे मृत घोषित कर दिया।

Accident
Accident

आक्रोशित परिजन ने जेसीबी चालक को बुलाने की मांग की

मृत बच्चे को लेकर वे फिर से घटनास्थल पर आए और जेसीबी को क्षतिग्रस्त कर दिया। बाद में कॉलेज रोड को कचरा डिपो के सामने ही जाम कर दिया, टीपरों को बीच सड़क पर खड़ा कर दिया। मृतक के परिजन, रिश्तेदार और सफाईकर्मी इस दौरान बहुत गुस्से में थे। आक्रोशित लोगों ने जेसीबी चालक को फोन करने की मांग की।

वे सफाई टिपरों (जैसे जेसीबी) में आग लगाने की भी धमकी दे रहे थे। जाम के दौरान इस सड़क पर आवागमन पूरी तरह बाधित रहा। आक्रोशित सफाईकर्मी बाइक तक नहीं छोड़ रहे थे। घटना के एक घंटे के बाद नगर थाने की पुलिस और पीसीआर टीम घटनास्थल पर पहुंची।

- Advertisement -

Also Read: Giridih News: काम करके घर जा रहे 2 युवक सड़क दुर्घटना में हुवे घायल, धनबाद रेफर

वे आक्रोशितों को समझाने की कोशिश करते थे, लेकिन वे मानने को तैयार नहीं थे। झारखंड लोकल बॉडिज इंप्लाइज फेडरेशन के जिलाध्यक्ष संजय मंडल ने बाद में लगभग ढाई बजे आकर मृतक के परिजन को 10 लाख रुपये सफाई एजेंसी से मुआवजा दिलाने, जेसीबी जब्त करने और चालक पर कार्रवाई करने की मांग की। नगर थाना प्रभारी राजीव कुमार भी इसी समय पहुंचे। मृतक परिजनों और अन्य सफाईकर्मी ने जाम हटाने से इनकार कर दिया, लेकिन थाना प्रभारी ने लिखित आवेदन मांगा।

- Advertisement -

कम्पनी कार्यालय में 45 मिनट की चर्चा

फेडरेशन के अध्यक्ष और नगर थानेदार दोपहर करीब 3:30 बजे मृतक के माता-पिता को निगम कार्यालय ले गए। नगर प्रबंधक प्रकाश मिश्रा और सतीश कुमार ने निगम कार्यालय में लगभग 45 मिनट तक चर्चा की। 10 लाख रुपये की शुरुआत से ढाई लाख रुपये हो गया। अंत में, सफाई एजेंसी से मृतक के परिजन को सवा लाख रुपये मुआवजा देने पर सहमति हुई।

4:15 बजे सड़क जाम हटाया गया। मृतक का शव पंचनामा कर पुलिस ने पोस्टमार्टम के लिए भेजा। वहीं जेसीबी को पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया। मृतक के पिता मुन्ना मल्लिक ने भी घटना को लेकर नगर थाने में लिखित शिकायत दी है और जेसीबी चालक मनोज यादव के खिलाफ कार्रवाई की मांग की है।

- Advertisement -
women crying
women crying

Also Read: Giridih News: बालू ले जा रहे ट्रैक्टर ने मुफ्फसिल थाना क्षेत्र के अंतर्गत, एक बाइक सवार को उडाया

पिता का आरोप: JCB मशीन का चालक नशे में था, हेडफोन लगाए हुए था

पिता का कहना है कि उसका बेटा 11:30 बजे एमएसडब्ल्यूएम सफाई एजेंसी के डिपो में प्रेम खेलने गया था, जब चालक मनोज जेसीबी मशीन चला रहा था और शराब पीकर कान में हेडफोन लगा था। उसी जेसीबी ने प्रेम को जन्म दिया। मनोज, जो नशे में था और हेड फोन लगाकर जेसीबी मशीन चलाता था, उसके चिल्लाने पर भी नहीं सुना और बेटे की उसी मशीन के अगले भाग से कुचलकर घटनास्थल पर मर गया।

यहाँ, प्रत्यक्षदर्शियों का कहना है कि कुछ बच्चे सफाईकर्मी से कचरा चुन रहे थे। इसी समय यह दुर्घटना हुई। बातचीत में निवर्तमान वार्ड पार्षद मृत्युंजय कुमार और अन्य सफाईकर्मी भी उपस्थित थे। वहीं, एसआई ओपी सिंह, अनुप कुमार, एएसआई नागेंद्र सिंह और जमशेद आलम सहित अनेक पुलिस अधिकारी कानून व्यवस्था में मौजूद रहे।

Share This Article
Follow:
मेरा नाम राजा विश्वकर्मा है और मैं पिछले कुछ महीनो से इस वेबसाइट 'JoharUpdates' में लेखक के रूप में काम कर रहा हूँ। मैं झारखण्ड के अलग-अलग जिलों से खबरों को निकलता हूँ और उन्हें इस वेबसाइट की मदद से प्रकाशित करता हूँ। मैंने इससे पहले कोई और जगहों पर काम किया हुवा है और मुझे लेख लिखने में 2 सालो का अनुभव है। अगर आपको मुझसे कुछ साझा करना हो या कोई काम हो तो आप मुझे "bulletraja123domcanch@gmail.com" के जरिये मुझसे संपर्क कर सकते है।
Leave a comment

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *