Jamshedpur News: CBI ने स्वामी विवेकानंद सेवा ट्रस्ट में जालसाजी की जांच शुरू की

Devkundan Mehta
2 Min Read
CBI ने जमशेदपुर स्वामी विवेकानंद सेवा ट्रस्ट में जालसाजी की जांच शुरू की

Jamshedpur: CBI ने जमशेदपुर के स्वामी विवेकानंद सेवा ट्रस्ट में हुई धोखाधड़ी की जांच शुरू कर दी है। सितंबर 2023 में हाइकोर्ट द्वारा जारी आदेश के आधार पर सीबीआइ ने बिष्टुपुर थाने में दर्ज प्राथमिकी संख्या 154/23 और 60/21 को दर्ज कर जांच शुरू की है। उस व्यक्ति को भी सीबीआई की प्राथमिकी में अभियुक्त बनाया गया है।

Whatsapp Channel Join
Telegram Join
_स्वामी विवेकानंद सेवा ट्रस्ट
_स्वामी विवेकानंद सेवा ट्रस्ट

जिसकी प्राथमिकी संख्या 154 थी। CBI ने स्वामी विवेकानंद सेवा ट्रस्ट, सरोज दास, रंजीत चौधरी, नकुल चंद्र प्रमाणिक, कमल कांति दास, कम दास और प्रकाश चंद्र नंदी को नामजद अभियुक्त घोषित किया है।

- Advertisement -

प्रकाश चंद्र नंदी ने प्राथमिकी संख्या 154 दर्ज की थी। इसमें सरोज दास पर आरोप लगाया गया था कि उसने स्वामी विवेकानंद सेवा ट्रस्ट के नाम पर एक अलग बैंक अकाउंट खोला और केंद्र सरकार से 42.17 लाख रुपये की चोरी की। प्राथमिकी संख्या 60 को पूर्व जिला कल्याण पदाधिकारी राजेश कुमार दास ने दर्ज किया था।

झारखंड उच्चा न्यायालय
झारखंड उच्चा न्यायालय

इसमें आदिम जनजातियों के हॉस्टल में केंद्र से मिली 19.44 लाख रुपये की गड़बड़ी का आरोप लगाया गया। ट्रस्ट में हुई इस वित्तीय दुर्घटना के मामले में हाइकोर्ट में तीन याचिकाएं दाखिल की गईं। सितंबर 2023 में न्यायालय ने तीनों याचिकाओं को एक साथ सुनने के बाद थाने में दर्ज करायी गयी दोनों प्राथमिकियों की सीबीआइ जांच का आदेश दिया। न्यायालय ने प्राथमिकी दर्ज कर जांच शुरू की है।

Also Read: सावधान एवं सतर्क रहे! श्री राम मंदिर के नाम पर साइबर अपराधी कर रहे ठगी का प्रयास

- Advertisement -
Share This Article
Leave a comment

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *