Dhanbad News: 4 फरवरी को नरेंद्र मोदी और हेमंत सोरेन के कार्यक्रम के पीछे प्रशासन की बढ़ी चिंता

Sahil Kumar
3 Min Read
4 फरवरी को नरेंद्र मोदी और हेमंत सोरेन के कार्यक्रम के पीछे प्रशासन की बढ़ी चिंता

Dhanbad: धनबाद की राजनीति में पहली बार प्रधानमंत्री, मुख्यमंत्री और कांग्रेस के वरिष्ठ नेता राहुल गांधी एक साथ पहुंच रहे हैं। प्रधानमंत्री और मुख्यमंत्री चार फरवरी को धनबाद में उपस्थित होंगे।

Whatsapp Channel Join
Telegram Join

 अब कांग्रेस नेता राहुल गांधी के चार फरवरी को धनबाद आने की खबर भी खारिज हो गई है। मुख्यमंत्री, प्रधानमंत्री और राहुल गांधी के आगमन पर शहर में भारी भीड़ को नियंत्रित करना जिला प्रशासन और पुलिस के लिए एक बड़ी चुनौती बन गया है।

- Advertisement -

4 फरवरी को बरवाअड्डा हवाईअड्डा परिसर में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी तीन लोकसभा क्षेत्रों के कार्यकर्ताओं को संबोधित करेंगे। भाजपा कार्यकर्ताओं की भारी भीड़ सभा स्थल पर आने वाली है। पार्टी के वरिष्ठ नेता धनबाद में रांची से आएंगे ।

Also read : 9 केन्द्रो में 28 जनवरी को होने वाली है JSSC की परीक्षा

Narendra modi
Narendra modi

 दूसरी ओर, गोल्फ ग्राउंड में चार फरवरी को झामुमो का 52वां स्थापना दिवस हर साल की तरह मनाया जाएगा। इसे सफल बनाने के लिए पिछले महीने से झामुमो के नेता काम कर रहे हैं। पार्टी के अध्यक्ष शिबू सोरेन और मुख्यमंत्री हेमंत सोरेन भी इसमें शामिल होंगे। पार्टी कार्यकर्ता भी धनबाद के हर कोने से गोल्फ ग्राउंड पहुंचेंगे, ताकि झामुमो के इस वार्षिक कार्यक्रम में भाग ले सकें।

- Advertisement -

पार्टी कार्यकर्ताओं के भीड़ को नियंत्रित करना भी एक चुनौती बनी पड़ी है 

Hemant soren
Hemant soren

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और मुख्यमंत्री हेमंत सोरेन के कार्यक्रमों का समय लगभग समान है। इस बार भी, पिछली बार की तरह, झामुमो कार्यक्रम दोपहर 12 बजे से शुरू होने वाला है। CM की बैठक में पहुंचने का समय एक बजे है। झामुमो कार्यकर्ता बर्वाअड्डा हवाईअड्डा से गोल्फ ग्राउंड पहुंचेंगे।

 यही कारण है कि दोनों पार्टियों के कार्यकर्ता एक ही स्थान से गुजरेंगे। भाजपा और झामुमो कार्यकर्ता धनबाद शहर के विभिन्न कोनों से पहुंचेंगे। दोनों पार्टियों के कार्यकर्ताओं को शहर में आने का भी एक ही तरीका मिलेगा।

- Advertisement -

शहर में हर सड़क पर कोई प्रवेश नहीं होगा।

देश के तीन प्रमुख वीआईपी नेताओं के एक साथ आने से सबसे अधिक मुसीबत लोगों को होगी। उस दिन शहर की सभी सड़कें जाम होंगी। ऐसे में लोगों को स्कूल-कॉलेज और कार्यालयों में पहुंचने में कठिनाई होगी। जिला ट्रैफिक पुलिस कार्यक्रम को लेकर अलग रूट चार्ट बनाने की तैयारी कर रही है।

Also read : CGIL परीक्षा में मुन्ना भाई को गिरफ्तार कर पुलिस ने लिया हिरासत में

- Advertisement -
Share This Article
Leave a comment

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *