Bokaro News: 230 करोड़ की लागत से होगा ग्रामीण पेयजल आपूर्ति परियोजना का काम

Aabhash Chandra
2 Min Read
230 करोड़ की लागत से ग्रामीण पेयजल आपूर्ति परियोजना का काम

Bokaro: झारखंड के बोकारो जिले में कई महत्वपूर्ण निर्माण कार्य चल रहे हैं। बिना बालू के इन योजनाओं को पूरा होना हो गया है असंभव। यही कारण है कि अवैध रूप से रेत मिलाकर काम चलाया जा रहा है। लेकिन बालू की हेराफेरी के कारण मामला खनन पर आ जाता है। अवैध रूप से एकत्र की गई अधिकांश रेत का उपयोग परियोजनाओं में किया जा रहा है।

Whatsapp ChannelJoin
TelegramJoin
ग्रामीण पेयजल आपूर्ति परियोजना का काम
ग्रामीण पेयजल आपूर्ति परियोजना का काम

बोकारो के चास प्रखंड में ग्रामीण पेयजल आपूर्ति योजना पर 230 करोड़ रुपये की परियोजना चल रही है। इस परियोजना के तहत प्रखंड में 11 जलमीनार बनाने का काम चल रहा है। इस योजना का उद्देश्य 36 पंचायतों के 101 गांवों में नल जल की सुविधा उपलब्ध कराना भी है। इनमें कनारी, चैनपुर, सुंटा, पारटांड़, मिर्धा, सोनाबाद, मधुनिया, महुदा समेत अन्य जगहों पर ग्यारह जलमीनार व वाटर फिल्टर प्लांट बनाये जा रहे हैं और इसके साथ ही मानगो और कनारी पंचायत में चल रहे निर्माण कार्य के लिए आसपास के इलाकों से बालू लाया जा रहा है।

Also Read: आज की 03 अप्रैल 2024 में हो रही झारखंड की ताजा खबरे ‘यहाँ पढ़े’

Also Read: पागल युवक ने किया कुल्हाड़ी से हमला, एक की मौत कई घायल

Categories

Share This Article
Follow:
मेरा नाम आभाष चंद्रा है और मैं फिलहाल अपना एक बिज़नेस कर रहा हूँ, और मैं पार्ट टाइम में Joharupdates के लिए न्यूज़ लिखता और उन्हें लोगो के साथ साझा करता हूँ। आप मुझसे मेरे ईमेल- aabhashchandra07@gmail.com पर समपर्क कर सकते है।
Leave a comment

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *