Ranchi News: विभाग ने JSSC को पत्र लिखा की सफल झारखण्ड के अभ्यर्थी भी बनेगे शिक्षक

Suraj Kumar
3 Min Read
विभाग ने JSSC को पत्र लिखा की सफल झारखण्ड के अभ्यर्थी भी बनेगे शिक्षक

Ranchi News: झारखंड में वर्तमान में प्राथमिक और मध्य विद्यालयों में शिक्षक नियुक्ति के लिए केवल जेटेट में सफल अभ्यर्थी ही योग्य थे। झारखंड में शिक्षा का अधिकार अधिनियम लागू होने के बाद अब तक दो जेटेट ली जा सकी हैं।

Whatsapp Channel Join
Telegram Join

झारखंड में सीटेट या किसी अन्य राज्य से शिक्षक पात्रता परीक्षा में सफल होने वाले अभ्यर्थी भी 1st और मध्य विद्यालयों में शिक्षक बन सकेंगे। लेकिन इन अभ्यर्थियों को तीन साल में झारखंड शिक्षक पात्रता परीक्षा में सफलता हासिल करनी होगी। अब JSCS आगे की प्रक्रिया पूरी करेगा।

- Advertisement -

स्कूली शिक्षा एवं साक्षरता विभाग ने भी इस संबंध में महाधिवक्ता से राय ली। जेएसएससी को महाधिवक्ता की राय भी बताई गई है। शिक्षा विभाग ने हाइकोर्ट का आदेश मानते हुए यह निर्णय लिया है। राज्य में 26 हजार सहायक आचार्य की नियुक्ति की प्रक्रिया जारी है।

झारखण्ड के अभ्यर्थी भी बनेगे शिक्षक
झारखण्ड के अभ्यर्थी भी बनेगे शिक्षक

वर्तमान में राज्य में प्राथमिक और मध्य विद्यालयों में शिक्षक नियुक्ति में केवल जेटेट में सफल अभ्यर्थियों को ही शामिल किया जा सकता था। झारखंड में शिक्षा का अधिकार अधिनियम लागू होने के बाद अब तक दो जेटेट ली जा सकी हैं। 2016 में हुई पिछली परीक्षा में लगभग 52 हजार लोग सफल हुए।

इसके अलावा, 2013 की परीक्षा में सफल हुए लगभग 15 हजार लोगों को नियुक्ति दी गई है। राज्य में वर्तमान में लगभग एक लाख अभ्यर्थी दोनों परीक्षाओं में सफल हो चुके हैं। झारखंड सीटेट उत्तीर्ण संघ के सूरज मंडल ने बताया कि राज्य में लगभग २० से २५ हजार अभ्यर्थी सीटेट उत्तीर्ण हो चुके हैं।

- Advertisement -

Also read: West Singhbhum News: रांची से पुरुष और प.सिंहभूम से महिला टीम, बॉलीबाल प्रतियोगिता फाइनल में पहुंची

आगे के दिशा-निर्देश जारी किए जाएंगे।

सहायक आचार्य शिक्षक नियुक्ति के लिए आवेदन जमा करने का कार्य पूरा हो गया है। अब शिक्षा विभाग से पत्र के बाद JSCS आगे की मार्गदर्शिका जारी करेगा. इसके बाद सफल अभ्यर्थियों का सीटेट आवेदन लिया जाएगा।

- Advertisement -

Also read:West Singhbhum News: डकैती की साजिश में 6 लोगों को किया गया गिरफ्तार

Share This Article
Leave a comment

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *