Deoghar News: रांची और पटना के बाद अब देवघर में खुला आयुष अस्पताल, जाने यहाँ किन-किन बीमारियों का होगा इलाज

Raja Vishwakarma
3 Min Read
देवघर एम्स में आयुष अस्पताल का उद्घाटन

Deoghar:- आयुष अस्पताल का पहला भवन देवघर एम्स में बना था। इस बिल्डिंग में रोगियों को भर्ती करने और उनके बैठने की सुविधा सहित आयुष के सभी विभागों के डॉक्टरों का चेंबर है।

Whatsapp Channel Join
Telegram Join

दिल्ली, ऋषिकेष और पटना एम्स कैंपस के बाद अब देवघर में भी आयुष अस्पताल खुलेगा। आयुष अस्पताल में कुल आठ विभाग होंगे, जिनमें अलग-अलग चिकित्सा प्रणाली का उपचार होगा। स्वास्थ्य एवं परिवार कल्याण मंत्रालय को देवघर एम्स प्रबंधन ने आयुष अस्पताल का प्रस्ताव भेजा है। देवघर एम्स के पुराने ओपीडी भवन में आयुष अस्पताल खुलेगा। ओपीडी अब एम्स के नए भवन में शिफ्ट हो गया है।

- Advertisement -

मंत्रालय को कुल आठ डॉक्टरों और 30 कर्मचारियों के पदों का प्रस्ताव भेजा गया है।आयुष अस्पताल में भी आयुर्वेदिक ओपीडी होगा। आयुष अस्पताल में आयुर्वेदिक उपचार किया जाएगा। यह वमन, विरेचन, अनुवासन बस्ति, निरूह बस्ति और नस्य जैसे पंचकर्मों का उपयोग करता है। इस अभ्यास से आस्टियो आर्थराइटिस, चर्म रोग, पाचन रोग, ब्लड प्रेशर, प्रोस्टेटाइटिस, रेमेटिज्म, डिप्रेशन, शुगर और अन्य कई रोगों का इलाज किया जा सकता है।

रांची और पटना के बाद अब देवघर में खुला आयुष अस्पताल
रांची और पटना के बाद अब देवघर में खुला आयुष अस्पताल

एम्स प्रबंधन ने कहा कि अगले महीने मंत्रालय से स्वीकृति मिलने के बाद आयुष विभाग में डॉक्टरों की नियुक्ति शुरू होगी। आयुष अस्पताल का पहला भवन देवघर एम्स में बना था। इस बिल्डिंग में रोगियों को भर्ती करने और उनके बैठने की सुविधा सहित आयुष के सभी विभागों के डॉक्टरों का चेंबर है।

Also Read: चहारदीवारी बनाने के मुद्दे पर दो पक्षों के बीच झड़प, 12 लोग घायल

- Advertisement -

सांसद निशिकांत दुबे ने कहा कि देवघर एम्स में आयुर्वेदिक उपचार जल्द शुरू होगा। AIMS कैंपस में पहले ही आयुष भवन तैयार है। Amritsar Medical School प्रबंधन ने मंत्रालय को प्रस्ताव भेजा है। इस प्रस्ताव को जल्द ही स्वास्थ्य मंत्री मनसुख मंडाविया से मिलकर मंजूरी दी जाएगी। PM मोदी और स्वास्थ्य मंत्री देवघर एम्स में अधिक से अधिक चिकित्सा सुविधाएं प्रदान करने के प्रति गंभीर हैं।

डॉ. निशिकांत दुबे, गोड्डा के सांसद

- Advertisement -

एम्स निदेशक ने क्या कहा?

मंत्रालय को आयुष अस्पताल शुरू करने का प्रस्ताव भेजा गया है। आयुष अस्पताल में सभी विभाग अलग-अलग पद्धति से संचालित होंगे। पदस्थापन के बाद डॉक्टरों की नियुक्ति की प्रक्रिया भी शुरू होगी।

डॉ. सौरभ वार्ष्णेय, देवघर एम्स के निदेशक

- Advertisement -

Also Read: घर के झगड़े को लेकर एक युवक ने गुस्से में आकर खाया जहर, हालत गंभीर

Share This Article
Leave a comment

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *