Ram Mandir News: प्राण प्रतिष्ठा के लिए कब हटेगा रामलला के चहेरे से कपड़ा

Suraj Kumar
4 Min Read
कब हटाया जायेगा रामललाल का चहरे से कपड़ा

Ram Mandir: प्राण-प्रतिष्ठा अभिजीत मुहूर्त में की जाएगी, शास्त्रीय परंपराओं के अनुसार। 22 जनवरी को दोपहर 12 बजे 29 मिनट 8 सेकंड से 12 बजे 30 मिनट 32 सेकंड तक अभिजीत मुहूर्त होगा। हम जानते हैं कि रामलला की मूर्ति की पूजा किस शुभ समय में की जाएगी।

Whatsapp Channel Join
Telegram Join

अयोध्या में रामलला की प्राण प्रतिष्ठा की तैयारियां लगभग पूरी हो गई हैं। 22 जनवरी 2024 को प्राण प्रतिष्ठा  होगा। 16 जनवरी से मूर्ति की प्राण प्रतिष्ठा से जुड़े सभी कार्यक्रम शुरू हो गए हैं। प्राण-प्रतिष्ठा अभिजीत मुहूर्त में की जाएगी, शास्त्रीय परंपराओं के अनुसार। 22 जनवरी को दोपहर 12 बजे 29 मिनट 8 सेकंड से 12 बजे 30 मिनट 32 सेकंड तक अभिजीत मुहूर्त होगा। हम जानते हैं कि रामलला की मूर्ति की पूजा किस शुभ समय में की जाएगी।

- Advertisement -
RAM LALAA
कब हटेगा रामलला के चहेरे से कपड़ा

प्राण प्रतिष्ठा के लिए उपयुक्त समय

रामलला की मूर्ति को पौष मास की (22 जनवरी 2024) को अभिजीत मुहूर्त, इंद्र योग, मृगशिरा नक्षत्र, मेष लग्न और वृश्चिक नवांश में स्थापित किया जाएगा। दिन के 12 बजकर 29 मिनट और 08 सेकंड से 12 बजकर 30 मिनट और 32 सेकंड तक यह शुभ मुहूर्त चलेगा। यानि प्राण प्रतिष्ठा का शुभ मुहूर्त 84 सेकंड चलेगा।

Also read: डेली मार्केट में हुआ हिंसा के मामले में 7 आरोपी के खिलाफ़ गैर जमानती वारंट जारी

यम नियम अनुष्ठान में क्या-क्या होता है?

PM नरेंद्र मोदी ने यम नियम को 11 दिनों तक लागू करने का फैसला किया है और 12 जनवरी से इसका पालन करेंगे। शास्त्रों ने मूर्ति स्थापना या मूर्ति की आत्मा की प्रतिष्ठा को पवित्र कार्य माना है। इन नियमों का मूल शास्त्र है। यम नियम पहला है अष्टांग योग के आठ भागों में; ये हैं यम, नियम, आसन, प्राणायाम, प्रत्याहार, धारणा, ध्यान, भजन और समाधि।

- Advertisement -

कुछ लोग बोद्ध धर्म के पांच सिद्धांत (अहिंसा, सत्य, अस्तेय, ब्रह्मचर्य और अपरिग्रह) को यम नियम भी मानते हैं। यम नियम में कठोर नियम हैं, जैसे हर दिन स्नान करना, खाना खाना छोड़ना, बिस्तर पर सोना छोड़ना आदि।

रामलाला के प्राण प्रतिष्ठा के बारे में क्या बोले हरभजन

क्रिकेटर हरभजन
क्रिकेटर हरभजन

भारतीय क्रिकेट के पूर्व खिलाड़ी और राज्यसभा सांसद हरभजन सिंह ने कहा कि अयोध्या में आने वाले प्राण प्रतिष्ठा समारोह एक महत्वपूर्ण अवसर होगा। कार्यक्रम के दौरान लोगों से बड़ी संख्या में आशीर्वाद लेने का आग्रह किया।
‘देश के लोगों को मेरी हार्दिक शुभकामनाएं,’ भज्जी ने शुक्रवार को एक इंटरव्यू में कहा। प्राण प्रतिष्ठा निकट आ रही है, और मैं अधिक से अधिक लोगों को समारोह में भाग लेने और आशीर्वाद देने के लिए प्रेरित करता हूँ। यह दिन ऐतिहासिक है। भगवान राम सभी देवता हैं, इसलिए उनके जन्मस्थान पर एक मंदिर बनाया जा रहा है। हर किसी को इसमें शामिल होना चाहिए।’

- Advertisement -

22 जनवरी तक अयोध्या में अनुष्ठान

21 जनवरी, सायं- शय्याधिवास
20 जनवरी, सायं- पुष्पाधिवास
20 जनवरी, प्रातः -शर्कराधिवास, फलाधिवास
21 जनवरी, प्रातः – मध्याधिवास

Also read:अबुआ आवास के लाभुको के चुनाव में लगा ‘भ्रष्टाचार का आरोप’

- Advertisement -
Share This Article
Follow:
"मैं सूरज कुमार, एक अनुभवी कंटेंट राइटर, पिछले कुछ महीनो से "JoharUpdates" में न्यूज़ राइटर के रूप में कार्यरत हूँ। मैंने विनोभा भावे यूनिवर्सिटी से B.com किया हुवा है, और मुझे कंटेंट लिखना अच्छा लगता है इसलिए मैं इस वेबसाइट की मदद से अपने लिखे न्यूज़ को आप तक पंहुचाता हूँ। Email- suraj24kumar28@gmail.com
Leave a comment

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *