Ranchi News : जाने किस कारण से 1 साल से JSSC के चक्कर काट रहे है 110 से अधिक युवक

Suraj Kumar
3 Min Read
जाने किस कारण से 116 युवकों को अभी तक नियुक्ति पत्र नहीं मिला है।

Ranchi : झारखंड कर्मचारी चयन आयोग (JSSC) द्वारा अनुशंसित 676 सफल आवेदकों में से 116 को अभी तक नियुक्ति पत्र नहीं मिला है। इसकी वजह आयोग द्वारा संबंधित जिलों में की गयी अनुशंसाओं के आधार पर रिक्त पदों की कमी नहीं होना है। पिछले 1 साल से, रिक्त पदों की कमी से 116 सफल उम्मीदवार नियुक्ति पत्र के लिए भटक रहे हैं। उन्हें पिछले जून में एक समारोह में नियुक्ति पत्र दिए गए, जिसमें से कुछ को उस समय के CM हेमंत सोरेन ने नियुक्ति पत्र दिए।

Whatsapp ChannelJoin
TelegramJoin

2017 में सरकार ने निम्न वर्गीय लिपिकों की नियुक्ति के लिए 2  विज्ञापन निकाले थे। विज्ञापन संख्या 1/2017 और 2/2017 में नियमित पदों और बैकलॉग पदों को भरने के लिए प्रकाशित किया गया था। आयोग ने न्यायालय द्वारा अवमानना वाद संख्या 612/2022 में दिये गये फैसले के आधार पर 676 सफल परीक्षार्थियों को निम्न वर्गीय लिपिक के नियमित पदों पर नियुक्ति करने की सिफारिश की। साथ ही बैकलॉग पदों को भरने के लिए 31 सफल उम्मीदवारों की भी सिफारिश की।

JSSC
JSSC

आयोग ने सफल परीक्षार्थियों को राज्य सरकार द्वारा उपलब्ध करायी गयी जिलावार रिक्तियों के अनुसार नियुक्त करने की सिफारिश की। 4 मई 2023 को, आयोग की सिफारिश के अनुसार, भू-राजस्व विभाग ने सभी जिलों को निम्नलिखित पदों पर नियुक्त करने का आदेश दिया। साथ ही, CM ने 22 जून को कार्यक्रम आयोजित कर नियुक्ति पत्र भी बांटे, लेकिन जिलों में रिक्त पदों की कमी की वजह से 676 में से सिर्फ 523 को नियुक्ति पत्र देकर योगदान कराया गया।

अब तक, निम्न वर्गीय लिपिक के रूप में चयनित 116 सफल परीक्षार्थियों को नियुक्ति पत्र नहीं मिले हैं क्योंकि आयोग की अनुशंसाओं के अनुसार बोकारो, गिरिडीह, लोहरदगा, पलामू और चाईबासा में रिक्त पदों की कमी है। बोकारो, गिरिडीह, लोहरदगा, पलामू और चाईबासा के उपायुक्तों ने भू-राजस्व विभाग को पत्र लिखकर निम्न वर्गीय लिपिकों की कमी के बारे में जानकारी मांगी। भू-राजस्व विभाग ने कार्मिक प्रशासनिक विभाग से उपायुक्तों की राय मांगी।

कार्मिक विभाग ने यह कहते हुए इन निम्न वर्गीय लिपिकों को शिक्षा और स्वास्थ्य सहित अन्य विभागों में रिक्त पदों पर नियुक्त करने से इनकार कर दिया क्योंकि इससे दूसरे संवर्ग के पदों की संरचना बिगड़ जाएगी। लेकिन कार्मिक विभाग ने इस समस्या का समाधान बताया। इसमें कहा गया कि आयोग की अनुशंसा के अनुसार इन 116 सफल उम्मीदवारों को नियुक्ति के बाद रिक्त पदों पर नियुक्त किया जा सकता है। कार्मिक विभाग द्वारा सुझाए गए इस उपाय के बाद से भू-राजस्व विभाग विभिन्न जिलों से निम्न वर्गीय लिपिकों की आवश्यकताओं की सूची जुटाने में लगा है। दूसरी ओर, 116 सफल उम्मीदवारों को नियुक्ति पत्र मिलने में देरी हुई

Also read : दहेज ना मिलाने पर ससुराल वालो ने गर्भवती महिला के खाने में मिलाया जहर

Categories

Share This Article
Follow:
"मैं सूरज कुमार, एक अनुभवी कंटेंट राइटर, पिछले कुछ महीनो से "JoharUpdates" में न्यूज़ राइटर के रूप में कार्यरत हूँ। मैंने विनोभा भावे यूनिवर्सिटी से B.com किया हुवा है, और मुझे कंटेंट लिखना अच्छा लगता है इसलिए मैं इस वेबसाइट की मदद से अपने लिखे न्यूज़ को आप तक पंहुचाता हूँ। Email- suraj24kumar28@gmail.com
Leave a comment

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *