Palamu News: जलापूर्ति का मुख्य पाइप हुआ क्षतिग्रस्त, ऑपरेटर ने तत्काल निगम प्रशासन को दी इसकी जानकारी

Sahil Kumar
3 Min Read
जलापूर्ति का मुख्य पाइप हुआ क्षतिग्रस्त ऑपरेटर ने तत्काल निगम प्रशासन को दी इसकी जानकारी

Palamu: चियांकी पहाड़ के पास रांची रोड में जलापूर्ति का मुख्य पाइप क्षतिग्रस्त हो गया। इससे बारालोटा की जलापूर्ति योजना ठप हो गई है। इस जलापूर्ति योजना के पोषक क्षेत्र में मंगलवार को जलापूर्ति नहीं हो सकी। पानी पहाड़ के पास बह रहा था क्योंकि सुबह में चियांकी जलमीनार से पोषक क्षेत्र को जलापूर्ति की गई।

Whatsapp Channel Join
Telegram Join

ऑपरेटर ने तत्काल पीएचडी और निगम प्रशासन को इसकी जानकारी दी। टीम निगम के नगर आयुक्त मोहम्मद जावेद हुसैन के निर्देश पर वहां पहुंची। पीएचईडी सहायक अभियंता के निर्देश पर विभाग के पाइप लाइन इंस्पेक्टर संजय गुप्ता भी पहुंचे। टीम ने निरीक्षण के दौरान पाया कि बाइपास सड़क निर्माण के दौरान पेयजल वितरण का मुख्य पाइप टूट गया है।

- Advertisement -
water pipe
water pipe

नगर आयुक्त को निगम के नगर प्रबंधक दिलीप कुमार और पाइप लाइन इंस्पेक्टर छोटेलाल गुप्ता ने पूरी स्थिति से अवगत कराया। उनका कहना था कि बाइपास सड़क बनाने के दौरान ही पाइप क्षतिग्रस्त हुए हैं। इस मामले में सड़क बनाने वाली भारत वाणिज्य इस्टर्न लिमिटेड कंपनी को दोषी ठहराया गया।

नगरपालिका आयुक्त ने कहा कि कंपनी को सड़क के किनारे निर्माण शुरू करने से पहले पीएचडी या निगम प्रशासन से संपर्क करना चाहिए था। उस कंपनी को नगर आयुक्त ने नोटिस भेजा है और क्षतिग्रस्त जलापूर्ति वितरण पाइप को जल्द से जल्द मरम्मत करने का निर्देश दिया है।

नगर आयुक्त ने स्पष्ट रूप से कहा कि अगर पाइप को सही तरीके से मजबूती से मरम्मत नहीं किया गया, तो कंपनी के खिलाफ कार्रवाई की जाएगी क्योंकि कंपनी की लापरवाही से ही पाइप क्षतिग्रस्त हुआ है।

- Advertisement -

Also read : रेलयात्री कनकनी में ठिठुरते हुए कर रहे इंतज़ार लेकिन 15 से 20 घंटे लेट से चल रही है ट्रैन

जलापूर्ति करीब एक सप्ताह तक बंद रहेगी।

नगर निगम की तकनीकी टीम ने क्षतिग्रस्त जलापूर्ति पाइप की जांच के बाद कहा कि जलापूर्ति करीब एक सप्ताह तक प्रभावित रहेगी। 15 इंच डायमीटर का जलापूर्ति मुख्य पाइप कई जगहों पर खराब हो गया है।

- Advertisement -

क्षतिग्रस्त पाइप का वेल्डिंग करने से लीकेज की समस्या बनी रहेगी, इसलिए पाइप को बदलने की बजाय उसे बदलना बेहतर होगा। इसलिए, निगम प्रशासन को सही निर्णय लेने और पाइप बदलने की कार्रवाई करने की सलाह दी गई है।

Also read : रेलवे के फैसले से रामभक्त हुए मायूस, 2500 से अधिक लोगों की अयोध्या जाने के लिए बनी टिकट हुई बर्बाद 

- Advertisement -
Share This Article
Follow:
हेल्लो, मेरा नाम शाहिल कुमार है और मैं झारखंड के धनबाद जिले का रहने वाला हूँ। मैंने हिंदी ओनर्स में ग्राटुअशन किया हुवा है और Joharupdates में पिछले 3 महीनो से लेखक के रूप में काम कर रहा हूँ। मैं धनबाद सहित आस-पास के जिलों में होने वाली घटनाओ पर न्यूज़ लिखता हूँ और उन्हें लोगो के साथ साझा करता हूँ। आप मुझसे मेरे ईमेल 'shahilkumar69204@gmail.com' पर कांटेक्ट कर सकते है।
Leave a comment

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *