Ranchi News: ड्रग्स और गांजा तस्कर जिसे भेजा गया था जेल, अब पुलिस करेगी उसका जिला बदर

Suraj Kumar
3 Min Read
ड्रग्स और गांजा तस्करो का अब पुलिस करेगी जिला बदर

Ranchi: अब रांची पुलिस गांजा और ड्रग्स के साथ गिरफ्तार कर सलाखों के पीछे भेजे गए तस्करों को जिला बदर करेगी। कारागार में बंद तस्करों पर भी सीसीए की कार्रवाई की जाएगी। पुलिस ने नशे की तस्करी करने वाले लोगों की सूची बनाने का काम शुरू कर दिया है। सिटी एसपी राजकुमार मेहता ने सभी थानेदारों को इसके लिए भी आदेश दिए हैं।

Whatsapp Channel Join
Telegram Join

यह कहा गया है कि सूची में तस्करों की पूरी जानकारी होनी चाहिए। तस्करों को जेल में डालने का भी मुद्दा उठाना चाहिए। सूची में किस इलाके से ड्रग्स और गांजा लाकर रांची में बेचते हैं, यह भी बताना होगा। सिटी एसपी के निर्देश पर शहर के सभी थानेदारों ने तस्करों को

- Advertisement -
ranchi jail
ranchi jail

100-50 रुपए में गांजा खरीद कर करते है नशा

5 से पंद्रह 15 की उम्र के नाबालिग भी अफीम, गांजा और चरस का इस्तेमाल करते हैं। नाबालिग लोग सड़क किनारे थिनर और गांजा खाते हैं। शहरों में भी दुकानदार बड़ी आसानी से नशीले पदार्थ खरीद-बिक्री करते हैं। तस्कर 70 रुपए में थिनर और लगभग 100 रुपए में गांजा की पुड़िया बेचते हैं। इसके विक्रेता गली-गली घूमकर नशीले सामान बेचते हैं। इसकी खुलेआम बिक्री हिंदपीढ़ी, किशोरगंज, रातू रोड पर होती है।

5 साल के अंदर रांची में लगभग 2400 मामले हो चुके हैं दर्ज

ड्रग्स और गांजा तस्कर
ड्रग्स और गांजा तस्कर

राज्य में NDPS के 5 साल में 2 हजार 386 मामले दर्ज हुए हैं। चतरा जिले में पिछले 5 वर्षों में सर्वाधिक 506 मामले दर्ज किए गए हैं। रांची जिला 278 मामले से दूसरे स्थान पर है। तीसरे स्थान पर जमशेदपुर है, जहां 255 मामले हैं। खूंटी जिला चौथे स्थान पर है, जहां 249 मामले हैं।

Also read:JMM के विधायक आज हैदराबाद से वापस आएंगे रांची

- Advertisement -

3 से ज्यादा बार केस के चलते जेल गए तस्कर हुए चिह्नित

रांची शहर के थानों में 3 या उससे अधिक केसों में नामित तस्करों की सूची। रांची पुलिस डीसी से CCA , जिला बदर और थाना हाजिरी कार्रवाई की सिफारिश करेगी। सभी थानेदारों को सूची को जल्द से जल्द सौंपने का आदेश दिया गया है। रांची शहर एसपी राजकुमार मेहता ने कहा कि CCA , थाना हाजिरी और जिला बदर की कार्रवाई होगी जो 3 बार से अधिक जेल जा चुके हैं। यह नशे को रोकने के लिए हो रहा है।

Also read: ट्रैफिक को देखते हुए रांची में बनाये जा रहे 10 नए फ्लाईओवर, लोगो को ट्रैफिक से मिलेगा छुटकारा

- Advertisement -

Share This Article
Leave a comment

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *