नोवामुंडी, जमशेदपुर में रहस्यमयी बीमारी से 7 लोगों की मौत

Sandeep Sameet
2 Min Read
नोवामुंडी, जमशेदपुर में रहस्यमयी बीमारी से 7 लोगों की मौत

Jamshedpur: जमशेदपुर के नोवामुंडी प्रखंड में एक विशिष्ट बीमारी से सात लोग मर गए हैं। इसमें पांच बच्चे भी हैं, जो बहुत दुखद है। चिकित्सकों को अभी तक पता नहीं चला कि ये मौतें किस बीमारी से हो रही हैं। सात दिनों में इन सात लोगों की मौत दो अलग-अलग गांवों में हुई है। इनमें से कांतोडेया और रेंगो टोला गांव हैं। सात लोगों की मौत की सूचना मिलने पर जमशेदपुर के सीएओ ने यहां वरिष्ठ चिकित्सकों की एक टीम भेजकर मामले की जांच की घोषणा की है।

Whatsapp ChannelJoin
TelegramJoin

मिली खबर में कहा गया है कि रेंगोटोला में मरने वाले लोगों में मोची चातोंबा का बेटा दरोगा चातोंबा (10) और बेटी माई चातोंबा (7), मानकी साई का तीन महीने का पुत्र कोंदा हेंब्रम (22) और सारो बिरुवा (56) शामिल हैं। कांतोड़ेया टोला निवासी विष्णु सिरका की तीन साल की बेटी सोमवार को मर गई। रविवार को जामदा बस्ती के तीन वर्षीय पुत्र टुई अंगरिया भी मर गया।

नोवामुंडी, जमशेदपुर में रहस्यमयी बीमारी से 7 लोगों की मौत
नोवामुंडी, जमशेदपुर में रहस्यमयी बीमारी से 7 लोगों की मौत

ये बीमारी के लक्षण हैं

ग्रामवासियों ने बताया कि मरने वालों को पहले सिर और फिर पूरे शरीर में दर्द होता था। चार-पांच दिन के बाद, दर्द असहनीय होने पर लोग मरने लगे। इस मामले में मुखिया गंगाधर चातोंबा ने बताया कि इस इलाके में डीएमएफटी से सप्ताह में दो दिन चिकित्सकों की टीम आती है और टाटा कंपनी से सप्ताह में चार दिन चिकित्सकों की टीम आती है। इसके बावजूद लोगों की मौत चिंताजनक है।

Categories

Share This Article
Leave a comment

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *